2

पंचायत का इतिहास

लगभग 250 साल पहले राजस्थान गाँव के लोग जमालपुर मे आकर बस गये| जमालपुर से आकर गाँव ढाना मे जाखड़ के परिवार आकर बस गये| गाँव जमालपुर से ढ़लान पर होने की वजह से इसका नाम ढाना रखा गया| इस गाँव से दो स्वतंत्रता सेनानी हुए जिनका नाम क्रमश शीश राम पुत्र श्री डीग राम व मातु राम है| इस गाँव ने भारत देश को काफ़ी जवान दिए हैं| इस गाँव से देश के लिए 5 जवानो  ने शहाद्त दी हैं| 1962 की लड्राई मे चन्दगी राम व चंद्र ,त्तथा 1965 में शेरसिंह ,1971 मे कपूर सिंह पुत्र श्री उमराव सिंह ने शहाद्त दी| आज भी इस गाँव के करीब 60 जवान देश की तीनो सेवाओ मे अपनी सेवाए दे र्हे हैं